इनपुट और आउटपुट डिवाइस | Input and Output Devices

Input and Output Devices: इस पोस्ट में कंप्युटर के इनपुट और आउट्पुट डिवाइस (Input and Output Devices), Input output port, Output Device, Input Devices के बारे में विस्तार से सम्पूर्ण जानकारी उपलब्ध करवाई गई है जो सभी प्रतियोगी परीक्षाओं जैसे – UPSC, RPSC, Bank, SSC, Railway, Police, Patwar के लिए बेहद उपयोगी एवं महत्वपूर्ण है |

इनपुट और आउटपुट डिवाइस (Input and Output Devices)

इनपुट युक्तियां (Input Devices)

वे युक्तियां जिनका प्रयोग उपयोगकर्ता के द्वारा कंप्यूटर को डाटा और निर्देश प्रदान करने के लिए किया जाता है इनपुट युक्तियां कहलाती है।

1.  की-बोर्ड (Key-Board)

की-बोर्ड का प्रयोग कंप्यूटर को अक्षर और अंकीय रूप में डाटा और सूचना देने के लिए करते हैं।

 की-बोर्ड कुंजियों के प्रकार –

1. अक्षरांकीय कुंजियां :- इसके अंतर्गत अक्षर कुंजियां (A, B, C, D, E …….Z) तथा अंकीय कुंजियां (0, 1, 2, 3, ……9) आती है।

2. अंकीय कुंजियां :-  ये कुंजियां  कीबोर्ड पर दाएं तरफ होती है ये कुंजियां अंकों (0, 1, 2, 3, …….9) से मिलकर बनी होती है।

3. फंक्शन कुंजियां :-  इन्हें प्रोग्रामेबल कुंजियां भी कहते हैं। F1, F2, F3, ……F12

4. कर्सर कंट्रोल कुंजियां :- इसके अंतर्गत चार तीर के निशान वाली कुंजियां आती है जो चार दिशाओं (ऊपर, नीचे, दाएं, बाएं) को दर्शाती है।

इन चारों कुंजियों के अतिरिक्त चार कुंजियां ओर होती है –

(i) होम (Home) – इसका प्रयोग लाइन के प्रारंभ में या डॉक्यूमेंट के प्रारंभ कर्सर को भेजने के लिए किया जाता है।

(ii) एण्ड (End) – इसका प्रयोग कर्सर को लाइन के अंत में भेजने के लिए किया जाता है।

(iii) पेज अप (Page Up) – इससे कर्सर पिछले पेज पर चला जाता है या पिछले पेज पर जाने के लिए।

(iv) डाउन (Page Down) – कर्सर को अगले पेज पर ले जाने के लिए या अगले पेज पर जाने के लिए।

की-बोर्ड की अन्य कुंजियां :-

– कंट्रोल कुंजी

– एंटर कुंजी (Enter Key)

– शिफ्ट कुंजी (Shift Key)

– एस्केप कुंजी (Escape key)

– बैक स्पेस कुंजी (Back Space key)

– डिलीट कुंजी (Delete Key)

– कैप्स लॉक कुंजी (Caps Lock key)

– नम लॉक कुंजी (Num Lock Key)

– विंडो कुंजी (Window Key)

– टैब कुंजी (Tab Key)

★ QWERTY की-बोर्ड में कुल 104  कुंजियां होती है।

यह भी पढ़ें >> कंप्युटर का सामान्य परिचय एवं इतिहास

 2. माउस (Mouse)

– माउस एक प्रकार की पॉइंटिंग युक्ति है। इसका प्रयोग प्वाइंटर को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाने के लिए करते हैं।

◆ माउस सामान्य तीन प्रकार के होते हैं –

(1) वायरलेस माउस

(2) मैकेनिकल माउस

(3) ऑप्टिकल माउस

3. ट्रैकबॉल (Trackball)

– ट्रैकबॉल एक प्रकार की प्वाईटिंग युक्ति है जिसे माउस की तरह प्रयोग किया जाता है।

4. जॉयस्टिक (Joystick)

जॉयस्टिक एक प्रकार की प्वाईटिंग युक्ति है जो सभी दिशाओं में मूव करती है।

– जॉयस्टिक का प्रयोग फ्लाइट सिम्युनेटर, कंप्यूटर गेमिंग सिस्टम में किया जाता है।

5. टच स्क्रीन (Touch Screen)

– टच स्क्रीन एक प्रकार की इनपुट युक्ति है। टच स्क्रीन  का प्रयोग सामान्यतः निम्न अनुप्रयोग किया जाता है।

(1) एटीएम मशीन में

(2) एयरलाइन आरक्षण में

(3) बैंक में

(4) सुपर मार्केट में

(5) मोबाइल में

6. बार कोड रीडर (Bar Code Reader)

– यह एक इनपुट युक्ति है जिसका प्रयोग किसी उत्पाद पर छपे हुए बारकोड को पढ़ने के लिए किया जाता है।

7. स्कैनर (Scanner)

इसका प्रयोग पेपर पर लिखे हुए डेटा या छपे हुए चित्र को डिजिटल रूप में परिवर्तित करने के लिए करते हैं।

–  यह एक ऑप्टिकल इनपुट डिवाइस है।

यह भी पढ़ें >> कंप्युटर का विकास एवं पीढ़ियाँ

आउटपुट डिवाइस (Output Device)

–  आउटपुट डिवाइस (Output Device) का प्रयोग कंप्यूटर से प्राप्त परिणाम को देखने अथवा प्राप्त करने के लिए किया जाता है।

–  आउटपुट डिवाइस (Output Device) आउटपुट को हार्ड कॉपी अथवा सॉफ्ट कॉपी के रूप में प्रस्तुत करते हैं।

1.  मॉनिटर (Monitor)

– मॉनिटर को विजुअल डिस्प्ले डिवाइस भी कहते हैं। मॉनिटर कंप्यूटर से प्राप्त परिणाम को सॉफ्ट कॉपी के रूप में दिखाता है।

–  मॉनिटर दो प्रकार के होते हैं-

(1) मोनोक्रोम मॉनिटर डिस्प्ले

(2) कलर डिस्प्ले मॉनिटर

2.  प्रिंटर (Printer)

–  प्रिंटर एक प्रकार का आउटपुट डिवाइस है।

– इसका प्रयोग कंप्यूटर से प्राप्त डेटा और सूचना को किसी कागज पर प्रिंट करने के लिए करते हैं।

– प्रिंटर की क्वालिटी डॉट्स प्रति इंच में मापी जाती है।

– प्रिंटर को दो भागों में बांटा गया है –

(1) इम्पैक्ट प्रिंटर

(2) नॉन इम्पेक्ट प्रिंटर

3. प्लॉटर (Plotter)

प्लॉटर एक आउटपुट डिवाइस है जिसका प्रयोग बड़ी ड्राइंग या किसी चित्र के लिए करते है। 

– प्लॉटर दो प्रकार के होते हैं –

(1) फ्लैट बैड  प्लॉटर

(2) ड्रम प्लॉटर

4. प्रोजेक्टर (Projector)

यह एक प्रकार का आउटपुट डिवाइस है जिसका प्रयोग कंप्यूटर से प्राप्त सूचना या डेटा को एक बड़ी स्क्रीन पर देखने के लिए करते हैं।

यह भी पढ़ें >> कंप्युटर की कार्यप्रणाली एवं कंप्युटर मैमोरी

इनपुट आउटपुट पोर्ट (Input output port)

– पेरिफेरल डिवाइसेज को कंप्यूटर से जोड़ने के लिए जिस माध्यम का प्रयोग होता है उन्हें इनपुट आउटपुट पोर्ट (Input output port) कहते हैं।

– यह निम्न प्रकार के होते हैं –

1. पैरेलल पोर्ट :- इसका प्रयोग कंप्यूटर से प्रिंटर को जोड़ने के लिए किया जाता है।

2. यूनिवर्सल सीरियल बस (Universal Serial Bus – USB)

Download Computer Topic Wise Notes PDF

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Scroll to Top