कंप्यूटर मेमोरी नोट्स | Computer Memory in Hindi

Join WhatsApp GroupJoin Now
Join Telegram GroupJoin Now

Computer Memory in Hindi: इस पोस्ट के माध्यम से कंप्युटर मैमोरी (Computer Memory in Hindi), प्राथमिक मेमोरी (Primary Memory), द्वितीयक मेमोरी (Secondary Memory), कैश मैमोरी (Cache Memory) से संबंधित सम्पूर्ण जानकारी उपलब्ध करवाई गई है|

Table of Contents

कंप्यूटर मेमोरी (Computer Memory in Hindi)

– मेमोरी कंप्यूटर का वह भाग है जिसमें सभी डाटा और प्रोग्राम स्टोर किए जाते हैं।

– मेमोरी दो प्रकार की होती है –

  1. मुख्य मेमोरी
  2. सहायक मेमोरी

यह भी पढ़ें >> कंप्युटर का परिचय एवं इतिहास

मेमोरी मापन की इकाइयां

(1) बिट
(2) निबल – निबल में 4 बिट होती है
(3) बाइट – 8 बिट
(4) किलोबाइट – 1024 बाइट
(5) मेगाबाइट – 1024 किलोबाइट
(6) गीगाबाइट – 1024 मेगाबाइट
(7) टेराबाइट – 1024 गीगाबाइट
(8) पेटाबाइट – 1024 टेराबाइट
(9) एक्साबाइट – 1024 पेटाबाइट
(10) जेटाबाइट – 1024 एक्साबाइट

यह भी पढ़ें >> कंप्युटर का विकास एवं पीढ़ियाँ

1.  प्राथमिक मेमोरी (Primary Memory)

– इसे आंतरिक मेमोरी भी कहा जाता है। यह सीपीयू का ही भाग होती है।
– इसे प्राथमिक मेमोरी या मुख्य मेमोरी कहते हैं
– कंप्यूटर की प्राथमिक मेमोरी को दो भागों में बांटा जा सकता है –

  1. RAM (रैण्डम एक्सेस मेमोरी)
  2. ROM (रीड ओनली मैमोरी)

2. द्वितीयक मेमोरी (Secondary Memory)

इन्हें बाह्य मेमोरी भी कहा जाता है क्योंकि यह सीपीयू के बाहर होती है। उदाहरण –

  1. मैग्नेटिक डिस्क – हार्ड डिस्क ड्राइव, फ्लॉपी डिस्क, मेमोरी डिस्क।
  2. ऑप्टिकल डिस्क – ऑप्टिकल डिस्क (Optical Disk) में पॉली कार्बोनेट की गोल डिस्कl होती है, जिस पर एक रासायनिक पदार्थ का लेप रहता है ऑप्टिकल डिस्क (Optical Disk) डेटा डिजिटली रूप में सुरक्षित रहता है ऑप्टिकल डिस्क (Optical Disk) तीन प्रकार की होती है – सीडी, डीवीडी, ब्लू-रे डिस्क
  3. सॉलिड स्टेट डिस्क – पेन / फ्लैश ड्राइव

यह भी पढ़ें >> कंप्युटर की कार्यप्रणाली एवं कंप्युटर मैमोरी

कैश मैमोरी (Cache Memory)

– कैश मैमोरी प्रोसेसर और मानक डीरैम (DRAM) मॉड्यूलों के बीच एक बफर के रूप में रहती है।
– नवीनतम निर्देश और उसके डेटा को कैश मैमोरी में रखा जाता है।
– इसे सीपीयू की मैमोरी भी कहा जाता है जिन प्रोग्राम और निर्देशों का बार-बार इस्ते्माल किया जाता है उनको कैश मेमोरी (Cache Memory) अपने अंदर सुरक्षित कर लेती है

कुछ महत्वपूर्ण द्वितीयक स्टोरेज डिवाइस

1. फ्लॉपी डिस्क (Floppy Disk) :- फ्लॉपी डिस्क माइलर की बनी हुई एक वृत्ताकार डिस्क होती है जिसके दोनों ओर एक चुंबकीय पदार्थ का लेप चढ़ा होता है।

2. हार्ड डिस्क (Hard Disk) :- इन्हें फिक्स्ड डिस्क भी कहा जाता है।

यह भी पढ़ें >> इनपुट और आउट्पुट डिवाइस

3. मेमोरी स्टिक (Memory Stick) :-  मेमोरी स्टिक एक प्रकार का मैमोरी कार्ड होता है ये एक यूएसबी आधारित मेमोरी ड्राइव है।

4. कॉम्पेक्ट डिस्क (Compact Disk) :-  यह एक विशेष प्रकार की डिस्क होती है जिन पर डाटा एक बार ही लिखा जाता है और फिर उसे कितनी भी बार पढ़ सकते हैं।

Computer Topic Wise Notes
Computer Memory in Hindi

Leave a Comment