कंप्युटर का परिचय एवं इतिहास | Computer Introduction

Computer Introduction: इस पोस्ट में कंप्युटर का सामान्य परिचय एवं उससे संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी उपलब्ध करवाई गई है जो सभी प्रतियोगी परीक्षाओं जैसे – RS-CIT / RKCL, RPSC, UPSC, Bank, Police, SSC आदि के लिए बेहद ही महत्वपूर्ण एवं उपयोगी है इस पोस्ट में निम्न बिंदुओं पर विस्तृत जानकारी उपलब्ध करवाई गई है – कंप्युटर क्या है ? (what is computer) , कंप्युटर का अर्थ एवं परिभाषा (Meaning and definition of computer), कंप्युटर की विशेषताएं (Computer features), कंप्युटर के उपयोग एवं सीमाएं (Computer usage and limitations)

Computer Introduction: कंप्युटर एक परिचय

कंप्युटर का अर्थ एवं परिभाषा (Meaning and definition of computer)

» कंप्युटर एक स्वचालित इलेक्ट्रॉनिक मशीन है, जो अनेक प्रकार की तर्कपूर्ण गणनाओं के लिए प्रयोग किया जाता है|

» कंप्युटर वह मशीन है जो डाटा स्वीकार करता है, उसे भंडारित करता है, दिए गये निर्देशों के अनुरूप उनका विश्लेषण करता है तथा विश्लेषित परिणामों को   आवश्यकतानुसार निर्गत करता है|

कंप्युटर के घटक (Computer Components)

कंप्युटर सिस्टम को मुख्यत: तीन भागों में बांटा जा सकता है –

  1. हार्डवेयर
  2. सॉफ्टवेयर
  3. डाटा

हार्डवेयर :- कंप्युटर मशीन का वह भौतिक भाग जिसे हम छु कर महसूस कर सकते है जैसे – की-बोर्ड, माउस, मॉनिटर, सीपीयू, प्रिंटर, मदर बोर्ड

सॉफ्टवेयर :- अनुदेशों और प्रोग्रामों का समूह जो कंप्युटर को यह बतलाता है की उसे क्या और कैसे करना है सॉफ्टवेयर कहलाते है |

» सॉफ्टवेयर को हम छु नहीं सकते और न ही भौतिक रूप में देख सकते है इस प्रकार हार्डवेयर यदि कंप्युटर का शरीर है तो सॉफ्टवेयर उसकी आत्मा है |

  • डाटा :- डाटा तथ्यों और सूचनाओ का अव्यस्थित संकलन है |

» डाटा को दो प्रकार में विभाजित किया जा सकता है |

  • संख्यात्मक डाटा :- यह अंकों से बना डाटा है जिसमें 0, 1, 2, 3, …… 9 तक की संख्याओं का प्रयोग किया जाता है |
  • चिन्हात्मक डाटा :- इसमें अक्षरों, अंकों तथा चिन्हों का प्रयोग किया जाता है |

डाटा प्रोसेसिंग :- डाटा का उपयोगिता के आधार पर किया जाने वाला विश्लेषण डाटा प्रोसेसिंग कहलाता है |

अनुदेश :- कंप्युटर को कार्य करने के लिए दिए गये आदेशों को अनुदेश कहा जाता है |

Download Computer Topic Wise Notes

कंप्युटर की विशेषताएं (Computer features)

  1. गति
  2. स्वचालित
  3. त्रुटि रहित कार्य
  4. स्थायी भंडारण क्षमता
  5. विशाल भंडारण क्षमता
  6. जल्द निर्णय लेने की क्षमता
  7. गोपनीयता

नोट : भारत में कंप्युटर का प्रथम प्रयोग 16 अगस्त 1986 को बैंगलुरु के प्रधान डाकघर में किया गया| जबकि भारत का प्रथम पुर्न कंप्युटरीकृत डाकघर नई दिल्ली है |

कंप्युटर की सीमाएं (Computer limitations)

  1. बुद्धिहीन :- केवल दिए गये दिशा-निर्देशों के अंदर ही कार्य कर सकता है सोचने व निर्णय लेने की क्षमता नहीं होती |
  2. खर्चीला :- हार्डवेयर तथा सॉफ्टवेयर काफी महंगे होते है |
  3. वायरस का खतरा
  4. विद्युत पर निर्भरता

कंप्युटर के उपयोग / अनुप्रयोग (Computer usage / applications)

  1. डाटा प्रोसेसिंग :- जनगणना, सांखिकीय विश्लेषण, परीक्षाओं के परिणाम आदि |
  2. सूचनाओं का आदान – प्रदान
  3. शिक्षा के क्षेत्र में
  4. वैज्ञानिक अनुसंधान
  5. रेलवे तथा वायुयान आरक्षण
  6. बैंक
  7. चिकित्सा
  8. रक्षा
  9. अंतरिक्ष प्रोद्योगिकी
  10. संचार, मनोरंजन, प्रकाशन

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Scroll to Top