Mission Govt Exam

अक्षांश एवं देशांतरीय रेखाएं | Akshansh aur Deshantar

Akshansh aur Deshantar, Akshansh Rekhaye, Deshantar Rekhaye, अक्षांश एवं देशांतर रेखाएं, अक्षांश रेखाएं, देशांतर रेखाएं, Akshansh aur Deshantar अक्षांश एवं देशांतर रेखाएं, Latitude and Longitude in Hindi, Akshansh Rekhaye, Deshantar Rekhaye, सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए उपयोगी एवं महत्वपूर्ण नोट्स

अक्षांश एवं देशांतरीय रेखाएं | Akshansh aur Deshantar

★ ज्योग्राफी (Geography) ग्रीक भाषा का शब्द है।
★ पृथ्वी का सबसे पहले अध्ययन – हिकेटियस  (पुस्तक – जस पिरियोडस / Jes Periods)
★ हिकेटियस को भूगोल का पिता कहा जाता है।
★ इरेटोस्थनीज – पुस्तक – ज्योग्राफीका  (इस पुस्तक के नाम पर इस विषय का नाम ज्योग्राफी पड़ा)

अक्षांश एवं देशांतर रेखाएं (Akshansh aur Deshantar)

अक्षांश रेखाएं

● वे काल्पनिक रेखाएं जो पश्चिम से पूर्व की ओर वृत बनाती है।
● अक्षांशों की संख्या – 181
● अक्षांश रेखाओं की संख्या – 179
● भूमध्य रेखा के समानांतर रेखाओं को अक्षांश रेखाएं कहते हैं। तथा सभी अक्षांश रेखाएं वृत्ताकार होती है।
● दो अक्षांशों के बीच की दूरी हमेशा एक समान होती है। (1° = 111KM) (Akshansh aur Deshantar)

महत्वपूर्ण अक्षांश रेखाएं

  • 0° – भूमध्य / विषुवत रेखा
  • 23½° उतरी अक्षांश रेखा – कर्क रेखा
  • 23½° दक्षिणी अक्षांश रेखा – मकर रेखा
  • 66½° उतरी अक्षांश रेखा – आर्कटिक वृत
  • 66½° दक्षिणी अक्षांश रेखा – अंटार्कटिक वृत
  • 90°  उतरी ध्रुव
  • 90° दक्षिणी ध्रुव

देशांतर रेखाएं

● देशांतर रेखाएं वे काल्पनिक रेखाएं हैं जो उत्तरी एवं दक्षिणी ध्रुवों को मिलाने का काम करती है।
● 0° देशांतर रेखा को निर्धारित करने के लिए 22 अक्टूबर 1884 को वाशिंगटन डीसी में एक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया गया और इस सम्मेलन में लंदन के ग्रीनविच नामक स्थान से 0° देशांतर रेखा निर्धारित की गई।
● देशांतर रेखाओं की संख्या – 360
● सभी देशांतर रेखाएं अर्द्ध वृत्ताकार होती है।
● दो देशांतर रेखाओं के बीच अधिकतम दूरी भूमध्य रेखा पर होती है (1° = 111.32KM)
● दो देशान्तरों के बीच न्यूनतम दूरी ध्रुवों पर होती है (1° = 0KM)
● ग्रीनविच रेखा तथा भूमध्य रेखा एक दूसरे को अटलांटिक महासागर में काटती है।
● यदि कोई व्यक्ति पूर्वी देशांतर से अंतर्राष्ट्रीय तिथि रेखा को पार करके पश्चिमी देशांतर में जाता है तो 1 दिन घट जाएगा या उसे 1 दिन का लाभ होगा।
● यदि पश्चिमी देशांतर से अंतर्राष्ट्रीय तिथि रेखा को पार करके पूर्वी देशांतर में जाता है तो 1 दिन बढ़ जाता है तो उसे 1 दिन की हानि होगी।
● अंतर्राष्ट्रीय तिथि रेखा प्रशांत महासागर से होकर गुजरती है यह एकमात्र देशांतर रेखा है जो टेडी-मेडी है। क्योंकि प्रशांत महासागर में स्थित द्वीपों को लेकर समय की समस्या न हो। (Akshansh aur Deshantar)

महाद्वीप ओर उनसे गुजरने वाली अक्षांश रेखाएं

● एशिया महाद्वीप – आर्कटिक वृत, कर्क रेखा, विषुवत रेखा
● अफ्रीका महमहाद्वीप – मकर रेखा, कर्क रेखा, विषुवत रेखा
● उत्तरी अमेरिका महाद्वीप – आर्कटिक वृत, कर्क रेखा
● दक्षिण अमेरिका – मकर रेखा, विषुवत रेखा
● यूरोप महाद्वीप – आर्कटिक वृत
● ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप – मकर रेखा

★ यदि कोई व्यक्ति पूर्वी देशांतर से अंतरराष्ट्रीय तिथि रेखा को पार करके पश्चिमी देशांतर में जाता है तो एक दिन घट जाएगा या उसे एक दिन का लाभ होगा।

★ यदि कोई व्यक्ति पश्चिमी देशांतर से अंतर्राष्ट्रीय तिथि रेखा को पार करके पूर्वी देशांतर में जाता है तो एक दिन बढ़ जाता है या उसे एक दिन की हानी होगी।

राजस्थान में कृषि प्रश्नोतर | Agriculture in Rajasthan Question
राजस्थान की स्थिति, विस्तार एवं भौतिक प्रदेश प्रश्नोतर
भारत की जलवायु वस्तुनिष्ठ प्रश्न | Climate of India Question
राजस्थान में खनिज संसाधन नोट्स | Khnij Sansadhan Notes
राजस्थान में सिंचाई परियोजना प्रश्नोतर
राजस्थान का भूगोल 1000+ प्रश्नोत्तर
महाद्वीप एवं महासागर नोट्स & प्रश्नोत्तर
राजस्थान का भूगोल हस्तलिखित नोट्स
राजस्थान जिला दर्शन
वायुमंडल हस्तलिखित नोट्स पीडीएफ
भारत का भूगोल हस्तलिखित क्लास नोट्स पीडीएफ
World Geography Notes PDF | विश्व का भूगोल हस्तलिखित क्लास नोट्स पीडीएफ
NCERT Geography Notes | NCERT Geography सार संग्रह
राजस्थान में ऊर्जा संसाधन | Rajasthan me Urja Sansadhan | Energy Resources
राजस्थान में मृदा संसाधन | राजस्थान में मिट्टियां | Soils of Rajasthan
सहकारिता की प्रमुख योजनाएं | Major Schemes of Cooperatives
राजस्थान में सहकारी संस्थाएं | Rajasthan Co-operative Society
डेयरी सहकारिता एवं डेयरी विकास | Dairy development in Rajasthan
राजस्थान में सहकारिता Rajasthan me Sahkarita Aandolan
राजस्थान के जिलेवार शुभंकर | Rajasthan ke District wise Vanya Jeev Shubhankar
वन एवं वन्य जीव अभयारण्य प्रश्न | Forest and Wildlife Sanctuary Questions
दक्षिण अमेरिका महाद्वीप | South America Continent
उत्तरी अमेरिका महाद्वीप | North America Continent
अफ्रीका महाद्वीप | Africa Continent Notes In Hindi
यूरोप महाद्वीप | Europe Continent Notes In Hindi
एशिया महाद्वीप | Asia Mahadeep | Continent of Asia
राजस्थान का सामान्य परिचय | Rajasthan ka Samanya Parichay
अक्षांश एवं देशांतरीय रेखाएं | Akshansh aur Deshantar
राजस्थान की जनगणना Census of Rajasthan
Transport in Rajasthan, राजस्थान में परिवहन
Rajasthan Industries Question | राजस्थान के उद्योग प्रश्नोतर
राजस्थान की नहरें Rajasthan ki Pramukh Nahar
राजस्थान की झीलें | Lakes of Rajasthan
राजस्थान की नदियाँ नोट्स | Rivers of Rajasthan
राजस्थान में वन एवं वन्य जीव अभयारण्य | Forest and Wildlife Sanctuaries in Rajasthan
राजस्थान के उद्योग | Rajasthan ke Udyog
Akshansh aur Deshantar, Akshansh Rekhaye, Deshantar Rekhaye, अक्षांश एवं देशांतर रेखाएं, अक्षांश रेखाएं, देशांतर रेखाएं, Akshansh aur Deshantar

1 thought on “अक्षांश एवं देशांतरीय रेखाएं | Akshansh aur Deshantar”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!