अमेरिका की क्रान्ति | American Revolution Notes in Hindi

अमेरिका की क्रान्ति | American Revolution Notes in Hindi: इतिहास की इस पोस्ट में अमेरिका की क्रांति से संबंधित नोट्स एवं महत्वपूर्ण जानकारी उपलब्ध करवाई गई है जो सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए बेहद ही उपयोगी एवं महत्वपूर्ण है america ki kranti

अमेरिका की क्रान्ति | American Revolution Notes in Hindi

👉🏻 प्रथम विश्व युद्ध के पश्चात् अमेरिका विश्व की महाशक्ति बनकर उभरा था परन्तु 18 वीं शताब्दी के पूर्वाद्ध तक यह इंग्लैण्ड का उपनिवेश था।
👉🏻 1492 में क्रिस्टोफर कोलम्बस ने अमेरिका की खोज की थी तथा इसका नामकरण इटालियन नाविक अमेरिगों वेस्सुगुप्पी के नाम पर रखा गया। जिससे 1501 ई में ब्राजील की यात्रा की थी।
👉🏻 जिस समय अमेरिका का निर्माण हुआ। उस समय यहाँ केवल 13 प्रांत थे।
👉🏻 अमेरिका में यूरोप के कई देशों के निवासी थे जो भिन्न धर्म, सम्प्रदाय ओर भाषा बोलने वाले थे।
👉🏻 अमेरिका में प्रथम व्यापारिक बस्ती स्पेन ने स्थापित की थी तथा 1607 में जेम्स नदी के किनारे क्रिस्टोफर न्यूफोर्ट की प्रथम बस्ती जेम्सटाउन स्थापित की।
👉🏻 1756-63 तक युरोप में सप्तवर्षीय युद्ध हुए थे इन युद्धों के पश्चात् ही इंग्लैण्ड ने अमेरिका की ओर ध्यान देना शुरू किया।

क्रांति के कारण

👉🏻 चूँकि अमेरिका में इग्लैण्ड के ही व्यापारी संख्या में ज्यादा थे तथा वे यहाँ व्यापार की अनुमति राजा से प्राप्त करके आये थे, परन्तु इन पर रोपण का अधिकार इंग्लैण्ड की संसद को प्राप्त था।
👉🏻 अमेरिका ने इस बात का तीव्र विरोध किया तथा कहा कि हमारा राजा एक है इसलिए इंग्लैण्ड तथा अमेरिका में एक समान कर प्रणाली होनी चाहिए।
👉🏻 अमेरिका पुरातनपंथी रोमन कैथोलिक धर्म की बजाय क्वेकर सम्प्रदाय की ओर अधिक झुका हुआ था।
👉🏻 इस सम्प्रदाय के विलियम पेन ने पेनसिलेवानिया नामक बस्ती स्थापित की थी।
👉🏻 अमेरिका में सबसे पहला छापाखाना कैम्ब्रिज नगर में स्थापित हुआ था।
👉🏻 पहला समाचार पत्र ‘बोस्टन न्यूज लैटर’ 1763 में प्रकाशित हुआ।
👉🏻 1775 में टोमस पेन ने ‘कॉमनसेन्स’ नामक शौध पत्र प्रकाशित किया।
👉🏻 पैट्रिक हेनरी ने नारा दिया – या तो स्वतंत्रता दो अन्यथा मौत।

यह भी पढ़ें>> रूस की क्रांति नोट्स पीडीएफ़

उपनिवेशों का आर्थिक शोषण

👉🏻 1651 में इंग्लैण्ड ने नौसेना एक्ट पारित किया जिसके अनुसार अमेरिका को भेजे जाने वाले सभी जहाज इंग्लैण्ड के ही होने चाहिए।
👉🏻 1663 में यह व्यवस्था लागू की कि सभी जहाज चाहे वे दूसरे देश के ही हो, इंग्लैण्ड के बन्दरगाह से ही जायेगे।
👉🏻 इंग्लैण्ड ने अमेरिका के व्यापार पर एकाधार स्थापित किया अर्थात सभी वस्तुए अमेरिकावासी इंग्लैण्ड के व्यापारियों में ही खरीदेंगे। जिस वजह से डच तथा फ्रांसीसी बस्तियां दीवालिया हो गई।
👉🏻 इस क्रांति का तात्कालिक कारण यह रहा कि 1763 में इंग्लैण्ड के प्रधानमंत्री ग्रीनविले ने अमेरिका से आने वालो खतों को पढ़ना शुरू किया, इसीलिए कहा जाता है कि ग्रीनविले ने अमेरिका को अपने हाथों से खो दिया।
👉🏻 इसने महसूस किया कि अमेरिका पर खर्चा ज्यादा तथा आय कम प्राप्त हो रही है इसलिए इसने अमेरिका पर 4 कर लगाये।

1.सुगर एक्ट (मोलिसेज) – इस एक्ट के मुताबित अमेरिका मे आयात होने वाली रम केवल इंग्लैण्ड से ही मंगायी जायेगी।
2.करैन्सी एक्ट – इस एक्ट के मुताबित अमेरिका के व्यापार वाणिज्य तथा हुँडी उद्योग में प्रयुक्त करैन्सी इंग्लैण्ड की ही होगी।
3.Quartering Act – अमेरिका में स्थित इंग्लैण्ड की सेना का एक चौथाई खर्चा अमेरिकन्स को देना होगा।
4.स्टाम्प एक्ट – इस एक्ट के मुताबिक सभी अदालती कार्यवाहियों में प्रयुक्त स्टाम्प वो होगें जो इंग्लैण्ड के व्यापारी सरकारी प्रेसों में छपते है।
👉🏻 अक्टुबर, 1765 में स्टाम्प एक्ट के विरोध में न्यूयॉर्क में स्टाम्प कान्टैक्टरो का अधिवेशन हुआ।
👉🏻 इस एक्ट के विरोध के लिए दो समितियां बनायी गई।
👉🏻 स्वाधीनता का पुत्र तथा पुत्री।
👉🏻 इन समितियो में क्रमशः पुरूष तथा महिलाएं भाग लेते थे।
👉🏻 पुरूष जहाँ जुलुस निकाल कर विरोध प्रदर्शित करते थे वहाँ महिलाएं गृह उद्योगों को बढ़ावा देती थी।
👉🏻 स्टाम्प एक्ट के विरोध में 9 उपनिवेशों ने मिलकर अक्टुबर, 1765 में न्यूयार्क में स्टाम्प एक्ट कांग्रेस का अधिवेशन बुलाया।
👉🏻 इसके तीव्र विरोध के कारण 1765 में रॉकिघम सरकार को यह एक्ट रद्द करना पड़ा।
👉🏻 इसके बाद विलियम पिट प्रधानमंत्री बने तथा इसके वित मंत्री टाउनशेण्ड ने यह अनुमान लगाया कि अमेरिकावासी केलव आंतरिक करों का ही विरोध करते है तथा इन्हें ब्राह्म करों से कोई परेशानी नहीं है।
👉🏻 इस वजह से उन्होनें 5 वस्तुओं – रंग, धातु सिक्का, कागज, शीशा व चाय पर कर लगाया।
👉🏻 इसके विरोध में 5 मार्च, 1770 को बोस्टन के युवको तथा सेना में झड़प हो गई, 5 युवक मारे गये तथा इस दिन को ही बोस्टन हत्याकाण्ड कहा जाता है। (अमेरिका की क्रान्ति)

यह भी पढ़ें>> फ्रांस की क्रांति नोट्स पीडीएफ़

👉🏻 इस वजह से सरकार को टाउनशैण्ड कर योजना वापिस लेनी पड़ी तथा सेद्धान्तिक रूप से केवल चाय पर कर 6 पैसा से घटाकर 3 पैसा कर दिया गया।
👉🏻 इसके पश्चात् लार्ड नार्थ इंग्लैण्ड के प्रधानमंत्री बने तथा उन्होंने चाय नीति जारी की, जिसके अनुसार इस्ट इण्डिया कम्पनी के गोदामों में रखी चाय इंग्लैण्ड न जाकर सीधे अमेरिका भेजी जाने लगी।
👉🏻 परन्तु सैमुअल्स एडम्स जैसा नेता चाय पर लगे इस कर को भी दासता का प्रतीक मानता था।
👉🏻 मैसाचूसेट्स के बांस्टन बंदरगाह पर सैमुअल्स एडम्स के नेतृत्व में 16 दिसम्बर, 1773 को चाय की 340 पेटिया समुद्र में फेका दी गई। इसे ही बांस्टन टी पार्टी कहा जाता है।
👉🏻 इस घटना के बाद लॉर्ड नार्थ तथा इंग्लैण्ड के राजा जॉर्ज द्वितीय ने इसे एक चुनौती के रूप में लिया तथा सभी अमेरिकन क्रांतिकारियों के मुकदमें अमेरिका से इंग्लैण्ड के न्यायालयों में स्थानान्तरित कर दिये गये।
👉🏻 बोस्टन बंदरगाह उस समय तक के लिए बंद किया गया जब तक इसके दोषी नहीं पकडे़ जाते।
👉🏻 5 सितम्बर, 1774 को अमेरिकन कांग्रेस का प्रथम अधिवेशन हुआ जिसमें जॉजियों को छोड़कर सभी प्रांतों के प्रतिनिधि शामिल हुए।
👉🏻 मैंसाचूसेट्स ने जॉन एडम्स व सैमुअल एडम्स तथा वर्जीनिया रो वांशिंगटन व पैट्रिक हेनरी शामिल हुए।
👉🏻 इसमें यह प्रस्ताव पारित किया गया कि जब तक इंग्लैण्ड पूर्ण स्वाधीनता नहीं देता तब तक करों की अदायगी नहीं की जायेगी।
👉🏻 इसके पश्चात् सैमुअल एडम्स तथा जॉन हेनकाक भूमिगत हो गये परन्तु जनरल गेज की सेना ने लेक्टिंगल नामक नगर को घेर लिया तथा इस दिन को सशस्त्र विद्रोह की शुरूआत हुई (19 अप्रैल, 1775)।

👉🏻 इसके पश्चात् 10 मई 1775 को कांग्रेस का दूसरा अधिवेशन फिलाडेल्फिया में ही बुलाया गया जिसकी अध्यक्षता जॉन हेनकाक ने की तथा सेना का नेतृत्व जॉर्ज वांशिगटन को सौपा गया।
👉🏻 2 जुलाई, 1776 को रिचर्ड हेनरी ली ने स्वतंत्रता का प्रस्ताव रखा जिसका अनुमोदन जॉन एडम्स द्वारा किया गया।
👉🏻 4 जुलाई, 1776 को अमेरिका ने स्वतंत्रता की घोषणा कर दी।
👉🏻 इसके पश्चात् वांशिगटन ने सेना का गठन किया तथा बंकरहिल के युद्ध में विलियम हो ने आसानी से वाशिंगटन को हरा दिया तथा फिलोडोल्फिया पर अंग्रेजी सेना का कब्जा हो गया।
👉🏻 अक्टुबर, 1777 को वांशिगटन ने सबसे पहले जनरल बुर्गोयान को सारटोगा के, युद्ध में हराया।
👉🏻 इसके पश्चात् 1778 में फ्रांस तथा 1779 को हौलेण्ड व स्पेन भी इंग्लैण्ड के विरोध में अमेरिका के साथ शामिल हुआ।
👉🏻 19 अक्टुबर, 1781 को लार्ड कॉर्नवालिस को यार्कटाउन के युद्ध में वाशिंगटन ने निर्णायक रूप से पराजित किया।
👉🏻 फ्रांसीसी क्रांति का नेता लाफायेत भी इस समय वांशिगटन के साथ था।
👉🏻 3 सितम्बर, 1783 को पेरिस की सन्धि में अमेरिका की स्वतंत्रता की घोषणा की गई तथा 13 अमेरिका बस्तियों को मान्यता दी गई।
👉🏻 21 जून, 1788 को अमेरिकन संविधान लागू हुआ।

History Topic Wise Notes & Question
अमेरिका की क्रान्ति

 241 total views,  5 views today

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Scroll to Top